अमीर बनने के 5 गोल्डन नियम | 5 Golden Rules of Getting Rich in Hindi

अमीर बनने के 5 गोल्डन नियम|5 Golden Rules of Getting Rich in Hindi

दोस्तों ! अमीर कौन नहीं बनना चाहता । यदि लोग अमीर नहीं बन पा रहे है ।या उन्हे पैसे की दिक्कत आ रही है,तो इसका कारण यह है कि या तो तुम #दौलत इकट्ठी करने के नियमों को नहीं जान पाए हो,या फिर तुम उनका पालन नहीं करते हो ।कोई भी देश #अमीर तब कहलाता है जब उस देश की जनता समृद्ध हो । भारत #सोने की चिड़ियां कहलाता था उन कर्मशिल लोगो की वजह से जिन्होंने देश की #जीडीपी  बढ़ाने में अपना योगदान दिया ।

अमीर बनना है तो पैटर्न बदलना होगा 

दोस्तों ! अमीर बनने के नियम में से एक है कि अमीर बनने की इच्छा का होना । बिना इच्छा के या बिना महत्वाकांक्षा के कोई भी अमीर या #दौलतमंद नहीं बन सकता ।आपकी इच्छाएं प्रबल और निश्चित होना चाहिए । यानि अगर किसी इंसान में सिर्फ #अमीर बनने की चाहत है तो उससे कोई फायदा नहीं होगा । परंतु किस व्यक्ति में ५०००० या ५ लाख कमाने की इच्छा हैं ,उसकी इच्छा निश्चित है और वह इसे पूरा कर सकता है ।

अपनी जवानी मे में बहुत #टालमटोल किया करता था । इससे मेरे हाथ से कई अच्छे सौदे निकल जाते थे । बहुत समय बाद इस सच्चाई का  पता चला कि बस यही वो आदत है जिसके कारण मैं ज्यादा #धन दौलत नहीं बना पाया । एक कहावत है ना की कुत्ते की जैसे जंगली शेर को सर्कस के लिए तैयार करने के दौरान सिखाते समय जैसे वह कटु हो जाता हैं उतनी ही कटुता से  मैने इस आदत से पीछा छुड़ाया ।

आज हमारे देश मे #मुकेश अंबानी और #अडानी जैसे अरबपति है जो दुनिया के सबसे बड़े अरबपतियों में से एक हैं । भारत को सोने की चिड़िया कहा जाता था क्योंकि यहां के लोग बहुत कर्मशील थे ।

आज भी भारत तेजी से विकसित होती अर्थव्यवस्था है ।

अमीर बनने की इच्छा होने से ही कोई अमीर नहीं बन जाता हैं ।उसके लिए अथक प्रयास करने पड़ते है । #आलस को त्याग कर खड़े होकर लगातार बिना थके अपनी मंजिल की ओर बढ़ना होता हैं । इसीलिए तो आलसी लोग अमीर नहीं बनते ।

दूर जब अमीरों के आलीशान महल देखते हैं तो गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों के लोग सोचते हैं कि इन अमीरों ने आखिर यह धन #दौलत कैसे बनाई होगी ? क्या कोई  राज है ? क्या  दौलत का रहस्य है?  आखिर क्या है दौलत के नियम  हैं ? हम भी उसे जानना चाहते है ।

धनवान लोगों के महलों की ऊंची दीवारों से जब मैं अंदर झांकता हूं ,तो देखता हूं कि लग्जरी कारें उनकी कोठी की शान बढ़ा रही हैं । उनके आसपास  कई और लोगों के भी घर थे , जिनकी हालत बहुत ज्यादा खराब थी । आखिर महलों और  झोपड़ी में रहने वालो में आखिर क्या वह अंतर होगा ? आखिर वे भी तो हमारे ही जैसे इंसान है ! और #पढ़ाई लिखाई की बात करें तो कुछेक तो हमसे भी कम पढ़े लिखे हैं ! कई तो पांचवी पास ही है , कोई तो कॉलेज भी नहीं जा सका । फिर भी इतने करोड़पति और दौलतमंद कैसे बन गए! ये सवाल मेरे मन में अक्सर आता है ।

अमीर बनना हैं तो अवसर को पहचानो

हमने यह पाया है कि अक्सर खुसकिस्मती अवसर के पीछे आती है । हमारे व्यापारी मित्र इस बात को अच्छी तरह समझ लें । #अवसरों को स्वीकार करके #खुशकिस्मती को आकर्षित किया जा सकता हैं ।

धन के पांच नियम  

अगर आपके सामने एक तरफ नोटो की गड्डियां रख दे और एसके तरफ फाइनेंशियल प्लानिंग की किताब रख दे तो आप किसे चुनेंगे ?

गांव के रेगिस्तान में भीड़ ने से एक युवा साथी ने कहा ,” नोटो की गड्डियां” । एक बूढ़ा समझदारी से मुस्कुराया ।

उसने अपना हाथ उठाकर उन्हें चुप कराय और कहा ,” रात में आवारा कुत्तों के भौंकने की आवाज़ सुन रहे हो , वो इसलिए चिल्ला रहे है क्योंकि वे भूखे हैं । परंतु अगर उन्हें भरपेट भोजन मिल जाए तो से भौंकना बंद कर देंगे और इतराते हुए चलेंगे ।” वे आने वाले कल की तरफ ध्यान नहीं देंगे ,जो निश्चित रूप से आएगा ही । कुछेक इंसान भी यही करते है ।वे बुद्धिमानी को नजरंदाज कर देते हैं और सोने को बर्बाद कर देते हैं। ऐसे ही गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों के लोग ,जो सिर्फ आज को मौज मस्ती ने बीता देते हैं फिर कल की जरूरत के लिए या तो बैंक के दरवाजे खटखटाते है या किसी साहूकार के चुंगल में फंस जाते है ।

पैसा ,सोना और धन उन लोगो के पास तेजी से आता है जो इसके नियम जानते है ।

जमाल ने अपनी शाल को कंधे पे सरकाते हुए कहा ,” तुम लोगो ने इस लंबी यात्रा में हमे डकैतो से बचाया ,अपने परिवार की हिफाजत करी ” इसलिए आज मैं तुम्हे पैसे के नियम के बारे में जरूरी बातें बताऊंगा । “मेरे शब्दों को ध्यान से सुनो , क्योंकि  अगर तुम उनका मतलब समझ लोगे और उनका पालन करोगे ,तो भविष्य में तुम भी धनवान बन सकते हों ।”

जमाल ने कहा आज रात मैं तुम्हे समझदार और अमीर अबरार की बुद्धिमानी के बारे में बताना चाहता हूं ।

सामान बांधने वाले व्यक्ति ने कहा ,” हमने उसके बारे मे काफी सुना है क्योंकि वे सौमनाथ के सबसे अमीर आदमी थे ।वे सबसे अमीर आदमी इसलिए बने क्योंकि वे धन के नियमों को जानते थे ।”

अमीर बनना है तो फिजूलखर्ची ना करें

किस्मत एक ऐसी दुष्ट देवी है ,जो किसी का भी स्थाई रूप से भला नहीं करती हैं ।जिस पर भी यह बिना मेहनत के धन की बरसात कर देती हैं ,वह लगभग हमेशा बर्बाद हो जाता हैं ।उसकी मेहरबानी के बाद इंसान बेतहाशा खर्च करने लगता हैं और कुछ ही समय में अपनी सारी दौलत गंवा बैठता है । दौलत तो चली जाती हैं , परंतु उसके अंदर बहुत सी इच्छाओं की भूख बाकी रह जाती है , जिन्हें संतुष्ट करने का अब उसके पास साधन नहीं है ।

यदि आप खुद को अनुशासित कर लेंगे तो आप नियमित रूप से बचत करने लगेंगे । और अपनी आमदनी का दसवां हिस्सा बचाने लग जायेंगे । इसके बाद हम इस बात पर विचार करेंगे की आप अपनी बचत से कैसे मेहनत करवा सकते है और इसे कैसे बढ़ा सकते है ।याद रखें बचत से जो आमदनी होगी , उसी से हम दौलतमंद बनेंगे । हम अपने धन या बचत से मेहनत कैसे करवा सकते है ? निवेश करके ! मेरा पहला निवेश डूब गया जो एक चिट फंड कंपनी से संबंधित था । और उसमे मेरी सारी बचत डूब गई थी । मैने अपना पहला लाभकारी निवेश तब किया , जब मैने एक इन्वेस्टमेंट अकाउंट (बी बैंक एफडी या पोस्टल डिपोजिट )मे निवेश किया । इसमें मुझे अच्छा ब्याज भी मिलता था । दोबारा मै उस ब्याज को भी मूलधन मे जोड़ देता था ।इस तरह न सिर्फ मेरी पूंजी बढ़ती थी ,बल्कि मेरी आमदनी भी बढ़ जाती थी ,तो मुझे बहुत संतुष्टि मिलती थी ।

लाभकारी निवेश के लिए अनुभव और ज्ञान दोनो की आवश्यकता होती हैं । इससे आपकी जमापूंजी बढ़ने लगती हैं । फिर इसे दोबारा निवेश कर दे । इससे आपके पास धन की सुनहरी धाराएं बहकर आने लगती हैं। जिनका आप सूझ बूझ से मनचाहा प्रयोग कर सकते है ।

एक किसान ने अपने पहले पुत्र के जन्म के समय दस रुपए जमा करा दिए । और उसपर २५ % ब्याज लेने लगा ।जब उसका पुत्र २० साल का हुआ तब तक वह लखपति बन चुका था । क्योंकि उसे चक्रवृद्धि ब्याज का फायदा मिला ।

हर सिक्के से मेहनत करवाते रहें, जब तक कि यह और सिक्के पैदा न करें । 

अपनी पूंजी की रक्षा करें 

इंसान को अपने पर्स में रखें धन की दृढता से रक्षा करना चाहिए । समझदारी इसी में है कि पहले हम छोटी रकम को सुरक्षित रखना दिखे ,तभी हम बड़ी रकम को सुरक्षित रख पाएंगे ।

जिसके पास धन होता हैं उसके सामने बहुत से प्रलोभन आते हैं । उसे कई ऐसे अवसर ललचाते हैं ,जब उसे लगता हैं कि वह बहुत अच्छी योजनाओं में निवेश करके बहुत लाभ कमा सकता हैं ।

निवेश का पहला दमदार सिद्धांत है आपके मूलधन की सुरक्षा । अगर मूलधन के चले जाने का खतरा हो , तो क्या ज्यादा कमाई के लालच में पड़ना समझदारी है ? अगर आप इतना बड़ा जोखिम उठाते हैं ,तो इसकी सजा यह होगी कि शायद आप अपना मूलधन भी गवां दें । इसलिए निवेश करने से पहले सावधानी से जांच पड़ताल कर लें ।किसी को भी अनजाने में अपनी मेहनत की कमाई तोहफे में मत दें । याद रखें रत्न खरीदने के लिए ईट वाले पर भरोसा करना मूर्खता है । अतिआत्मविश्वास में आकर अपनी पूंजी को ऐसी जगह पर निवेश न करें , जहां उसके डूबने का खतरा हो । बेहतर यह है कि आप धन के प्रबंधन में अनुभवी लोगों की समझदारी भरी सलाह लें ।

इंसान नियमित रूप से किसी इन्वेस्टमेंट अकाउंट में छोटी छोटी राशियां जमा करके अपने धन को बढ़ा सकता हैं । हमे अपने संसाधनों का लाभ उठाकर अपने लक्ष्य को हासिल करने के दूसरे तरीके खोजने चाहिए ।यदि आपकी कोई जायदाद हैं तो वो किराए पर चढ़ाई जा सकती हैं ।

 

धीरे धीरे अमीर होने वाला इंसान अमूमन बैलेंस्ड रहता है । धीरे धीरे कमाई दौलत का इंसान अभ्यस्त हो जाता हैं । वह पैसा और खुद को संभालना सीख जाता हैं , पर अचानक आई दौलत जा दबाव इतना ज्यादा होता हैं कि कई बार इंसान डिप्रेशन में भी चला जाता हैं । वह समाज से कटने लगता है , अकेलापन उसे अच्छा लगता हैं ।

 

यह भी पढ़ें ; 

इन्वेस्टमेंट की गाइड 

दौलत के नियम 

कैरियर की शुरुआत से ही निवेश करने की आदत डालें , जल्दी निवेश करने से कंपाउंडिंग का मिलेगा ज्यादा लाभ 

पैसे कमाने, बचाने और बढ़ाने के साथ निवेश के मौकों के बारे में जानकारी के लिए  आप हमारे फेसबुक पेज पर जाएं , फेसबुक पेज पर जाने के लिए यहां क्लिक कीजिए 

इसे भी पढ़े ; 

दौलत के नियम 

ये भी पढ़ें:

 ऐसे करे अपने रिटायरमेंट की प्लानिंग , इन बातों का रखेंगे ध्यान तो मिलेगा अच्छा रिटर्न

 how to become crorepati।10साल में करोड़पति बनना है तो आज से ही शुरू कर दे ये काम कैसे बने

दौलत के नियम

पैसे के बारे मे अमीर लोग क्या जानते हैं जो स्कूल कॉलेज मे नहीं सिखाया जाता है और जो गरीब और मध्यमवर्गीय परिवारों के लोग नहीं जानते

यह भी पढ़ें; 

पैसे की दुश्मन होती हैं व्यक्ति की ये पांच आदतें सैलरी कितनी भी हों जेब हमेशा रहेगी खाली

दौलत के नियम

यह भी पढ़ें ; 

इन्वेस्टमेंट की गाइड 

दौलत के नियम 

कैरियर की शुरुआत से ही निवेश करने की आदत डालें , जल्दी निवेश करने से कंपाउंडिंग का मिलेगा ज्यादा लाभ 

 

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *