पैसे के बारे में अमीर लोग क्या जानते है जो स्कूलों कॉलेज में नहीं सिखाया जाता ? जिसे गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग नहीं सीख पाते

पैसे के बारे मे अमीर लोग क्या जानते है जो स्कूल कॉलेज मे नहीं सिखाया जाता जिसे गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग नहीं सीख पाते 

दोस्तों ! आप सोच रहे होंगे कि पैसे के बारे मे अमीर लोग ऐसा क्या जानते हैं जिससे वे और अमीर हो जाते है , जबकि गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग पैसे के बारे मे वो चीज नहीं जान पाते , जिससे उन्हें ज्यादा पैसे की तंगी होती हैं और वे ज्यादा गरीब होते जाते है ।हमारे स्कूल कॉलेज मे भी पैसे के बारे ने नहीं सिखाया जाता है।अगर स्कूल में धन के बारे में  सिखाया जाता तो लोगों के पास ज्यादा पैसा होता और बाजार की कीमतें भी कम होती ।

परंतु स्कूलों में सिर्फ पैसे के लिए काम करना सिखाया जाता है , पैसे की ताकत का इस्तेमाल नहीं सिखाया जाता ।धन दौलत का विषय स्कूल में नहीं , बल्कि घर पर पढ़ाया जाता हैं । और अमीर लोगो के पास पैसा होता हैं तो वे अपने बच्चों को पैसे का पाठ अच्छे से समझा सकते है ।

जबकि गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग इस तरह से शिक्षा नहीं दे पाते ,इसलिए उनके बच्चे भी तंगी और गरीबी की भाषा सीखते है ।हो सकता हैं वह बच्चा अच्छे नंबरों से कॉलेज की पढ़ाई पूरी कर ले ।फिर भी पैसे के बारे ने उसकी मानसिकता और उसका सोचने का ढंग एक गरीब आदमी जैसा ही बना रहेगा ।

यह सब उसने तब सीखा था जब वह छोटा बच्चा था ।और बड़े होकर अपना जीवन भी उन्ही  तौर तरीकों और नियमों से गुजार देते है जैसे उनके मां बाप ने जिंदगी गुजारी ।

गरीब मध्यमवर्गीय परिवार के नासमझ लोगों की जिंदगी सिर्फ इसलिए बर्बाद हो जायेगी क्योंकि वे भरोसा करते रहेंग कि धन ही असली चीज है ।अमीर लोग जानते है कि धन एक भ्रम है। धन के भ्रम के कारण डर और लालच पैदा होता हैं ।

स्कूल में पैसे की शिक्षा दी जानी चाहिए
स्कूल कॉलेज मे पैसे का महत्व सिखाने से लोगों ने टैक्स की समझ विकसित होगी , इसलिए सरकार के पास कम टैक्स जायेगा

 

और मजे की बात यह है कि जिन्हे पैसे वाली समझ नहीं है वे समझदार लोगो के लिए आर्थिक नीतियां बनाते हैं , इसी कारण हमारे देश पर पर भारी कर्ज लदा हुआ है

स्कूल कॉलेज में पैसे के बारे में नहीं सिखाया जाता

स्कूलकॉलेज मे धन का विषय नहीं पढ़ाया जाता । वहां  टीचर्स सरकार द्वारा थोपी गई पुरानी स्कूल सामग्री और सिलेबस को जैसे तैसे पूरा करके बच्चो के दिमाग में ठूंस दिया जाता हैं । इस पद्धति से तो  बड़े होकर क्लर्क बनेंगे ।और  जिन स्मार्ट बैंकर्स , डॉक्टर्स और अकाउंटेंट्स के स्कूल में अच्छे नंबर आते है ,वे जिंदगी भर पैसे के लिए संघर्ष करते रहते है ।हमारा स्कूल सिस्टम पुराने जमाने का हैं । और थोड़े बहुत बदलाव भी आए हैं तो वे भी इस तरह की आप उसके भरोसे सिर्फ किसी मल्टीनेशन कंपनी मे नौकरी कर सको ।

बिना काम किए धन की प्राप्ति के लिए पढ़े :

www.wikihow.com

आज भी यह बिना नीव के घरों में भरोसा करता हैं ।

स्कूल और कॉलेज से निकलने वाले बच्चों की आर्थिक नीव नहीं होती हैं । 

वे कॉलेज से निकलते हैं ,किसी बड़ी कंपनी ने जॉब करने लग जाते है । पैसे के बारे ने उनकी समझ विकाटी नहीं होती हैं । ढेरो पैसा कमाते है, किंतु पैसे को संभालना उन्होंने कहीं सीखा नहीं होता !अनाप शनाप खर्चे , दिखावे की लाइफस्टाइल में ,एक दिन जब उन्हें नींद नहीं आती है और वे कर्जे मे डूब जाते है ।उन्हे लगता हैं पैसे की यह जो समस्या उनके सामने खड़ी है , उसे अमीर होकर ही सुलझाया जा सकता हैं ।लेकिन ऐसा नहीं है । पैसे की समस्या अमीर होकर या ज्यादा ऊंची तनख्वाह ले के नहीं , बल्कि पैसे को कैसे बनाए रखना है ?

मेरा मानना है कि दौलत का सबसे अच्छा उपयोग बच्चों को यह सिखाना है कि इसे कैसे कमाना है , निवेश करना हैं , बचाना है और समझदारी से खर्च करना है ।

पैसे की ताकत का कैसे इस्तेमाल करें , उससे आप अमीर बनते हैं । 

अमीर लोग जानते है कि पैसे से कैसे काम करवाया जाए।अमीर लोग सौदाबाजी करने , अपने पैसों की हिफाजत करने वाले होते है ।उन्हें समय की बर्बादी बिल्कुल पसंद नहीं होती ।वे किसी भी बात को तुरंत समझ जाते है । क्योंकि वे अपना नॉलेज बढ़ाते रहते हैं ।अमीर लोग जानते है कि जमाने के साथ होशियार रहना भी जरूरी हैं । क्योंकि व्यापार में निर्ममता और  अंतः दृष्टि की आवश्यकता होती हैं ।

 

 

धन एक मायाजाल है । जनता के अज्ञान और भरोसे के भ्रम की वजह से ताश के पत्तो का यह महल खड़ा रह पाता है।

अमीर लोग सौदाबाजी मे माहिर होते हैं । 

पैसे की ताकत का इस्तेमाल करने के लिए उसके निवेश के बारे मे नॉलेज होना चाहिए । इसके लिए आपको कंपाउंडिंग इंटरेस्ट का भी नॉलेज होना चाहिए । अल्बर्ट आइंस्टीन कहते थे कि चक्रवृद्धि ब्याज दुनियां का आठवां अजूबा है ।आपको  शेयर बाजार में अपने पैसे को लगाकर , सही समय पर सही शेयर खरीदकर , उचित मुनाफे पर कैसे बेचा जाता हैं , इस बात की भी आपको समझ होनी चाहिए ।

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *