बड़े बड़े बिजनेस डील या डिसीजन खाने की टेबल पर क्यों होते है?

बड़े बड़े बिजनेस डील या डिसीजन खाने की टेबल पर क्यों होते हैं ?

दोस्तों ! आपने अक्सर देखा होगा जब भी कोई बड़ा सौदा या बिजनेस डील होने वाली होती हैं या कोई  डिसीजन की बात आती हैं तो  उस बिजनेस डील में शामिल लोगों को खाने पर बुलाया जाता हैं या एक छोटी सी पार्टी रखी जाती है ।

आप सोच रहे होंगे कि कोई बिजनेस डील या डिसीजन मे खाने को इंपोर्टेंस क्यों दिया जाता हैं ।

साइकोलॉजी के अनुसार कुछ भी खाना एक calming activity हैं ।यदि व्यक्ति कुछ खा रहा है तो वह उस एनवायरनमेंट ने काफी कंफर्ट फिल करता हैं । ऐसी स्थिति में वह कभी एग्रेसिव  नहीं होता ।

यदि कोई बहस होने वाली होती हैं तो ईटिंग प्रोसेस के कारण वह टल जाती हैं । साइकोलॉजिस्ट के अनुसार एक सिंपल चॉकलेट भी रिलेशनशिप को मजबूत करने मे काम आ जाती हैं ।

शायद इसलिए कॉलेज में दोस्ती की शुरुआत एक चॉकलेट या कॉफी से की जाती हैं ।

घर में मां को जब भी पापा से कोई जरूरी बात करना होती हैं तो वे पापा का पसंदीदा खाना बनाती हैं । और फिर खाना सर्व करने के दौरान चुपके से वह बड़ी बात कह जाती हैं जिसको कई दिनों से कहने की हिम्मत नहीं जुटा पाते है ।

 

और पापा खाना खाते खाते हां कह देते हैं ।

हिंदी में  फाइनेंशियल नॉलेज बढ़ाने के लिए और फाइनेंशियल बुद्धि को विकसित करने के लिए हमारे यूट्यूब को सब्सक्राइब कीजिए यहां क्लिक कीजिए 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *