“मैं नहीं मेरा रुपया मेरे लिए काम करता हैं ” जानिए ऐसा क्यों कहा दुनिया के सबसे बड़े अरबपतियों ने ?

“मैं नहीं मेरा रुपया मेरे लिए काम करता है” जानिए ऐसा क्यों कहा दुनिया के सबसे बड़े अरबपतियों ने ?

दोस्तों ! दुनियां के जितने भी अमीर और अरबपति है वे जानते है कि पैसों से किस तरह काम करवाया जाता हैं ।वे लोग रुपयों की ताकत को अच्छे से समझते हैं ।

दुनिया के अरबपति रॉबर्ट कियोसकी कहते है कि “मैं नहीं मेरा रुपया मेरे लिए काम करता है “।वे कहते है कि गरीब और मध्यमवर्गीय परिवार के लोग रुपयों के लिए काम करते हैं , जबकि अमीर लोग रुपयों के लिए काम नहीं करते , बल्कि रुपया उनके लिए काम करता है। वे रूपयो का अविष्कार करते है ।

पैसे की समझ रखें

अगर आपके पास पैसे की समझ नहीं है तो पैसा चाहे आ भी जाए , पर ज्यादा देर नहीं टिकता । 

अमीर बनने के लिए यह पुस्तक पढ़े: 

यदि आपको रुपयों से काम करवाना है तो एक मजबूत फाउंडेशन जरूरी हैं 

अगर आप एंपायर स्टेट बिल्डिंग बनाने जा रहे है ,तो सबसे पहले आपको एक गहरा गड्ढा खोदना होगा और एक मजबूत नींव डालनी होगी ।

लेकिन ज्यादातर लोग अमीर बनने के चक्कर मे ६ इंच के स्लैब पर एंपायर स्टेट बिल्डिंग खड़ी करना चाहते है ।

अगर लोग लचीले होंगे , दिमाग खुला रखने और सीखने के लिए तैयार रहें तो भी वे उतार चढाव के बावजूद वे बहुत अमीर बन सकते है ।

हिंदी में  फाइनेंशियल नॉलेज बढ़ाने के लिए और फाइनेंशियल बुद्धि को विकसित करने के लिए हमारे यूट्यूब को सब्सक्राइब कीजिए यहां क्लिक कीजिए 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *