इन्वेस्टमेंट की गाइड

इन्वेस्टमेंट की गाइड

दोस्तों ! महान दौलत हासिल करना कभी इतना आसान नहीं रहा , जितना की आज है । 

अपनी खुद की संपत्ति बनाना कभी इतना आसान नहीं रहा , जितना की आज है । क्योंकि  इंटरनेट के इस युग मे आप कोई भी जॉब या बिजनेस अपनी हथेली से कर सकते है ।आज बहुत से एप के जरिए , ऑनलाइन बिजनेसेज से लोग लाखों करोड़ों रुपए बना रहे है । जरूरत है तो सिर्फ वित्तीय शिक्षा की और उसे इंप्लीमेंट करने की ।अब पैसा बनाने के लिए पैसे की जरूरत क्यों नही ऑनलाइन बिजनेस के लिए जमीन पैसा और कर्मचारी नहीं चाहिए ।

आज वित्तीय शिक्षा और इन्वेस्टमेंट का नॉलेज अत्यधिक महत्वपूर्ण है । 

अकाउंटिंग, टैक्स कोड, बिजनेस लॉ और कॉरपोरेट लॉ की समझ जरूरी हैं ।यदि आपके पास शिक्षा और अनुभव या अत्यधिक पैसे के साथ तैयार नहीं है तो एक अच्छा अवसर हाथ से निकल जायेगा ।आपके सलाहकार आप जितने ही स्मार्ट है ।ज्यादा स्मार्ट कौन है ? आप या आपका धन ? ” 

अपने धन को अपने लिए काम पर लगवाइए ।अपने धन से मेहनत करवाइए ।आपको कई वित्तीय योजनाकारों से परामर्श लेकर किसी एक योजना को चुन लेना चाहिए ।चाहे वो म्यूचुअल फंड में इन्वेस्ट करने की हो या , रियल एस्टेट खरीदना हो या फिर कुछ चुनिंदा शेयर में दीर्घकालीन इन्वेस्ट करने की हो ,आपको तत्काल ये कदम उठा लेने चाहिए ।प्रबुद्ध निवेशक मे योग्यता प्राप्त निवेशक जितना ज्ञान तों होता ही है , साथ ही वह कानूनी तंत्र के माध्यम से उपलब्ध लाभों का अध्यन भी कर चुका होता हैं ।

वित्तीय फ्रीडम के लिए छोटे छोटे कदम उठाए 

छोटी शुरुआत करें और समस्याओं को सुलझाना सीखे।बहुत से लोग छोटे कदम उठाने के बजाय “बड़ी छलांग” लगाने की कोशिश करते है , और धड़ाम से गिर जाते हैं ।टाइप ए निवेशक समस्याओं की तलाश करते हैं ।

रॉबर्ट कियोसकी कहते है कि जब मैने निवेश करना शुरू किया तो मैने सिर्फ छोटे कंडोमिनियम्स और मकानों की तलाश की,जो फॉरक्लोजर मे थे ।मैने उन निवेशकों द्वारा उत्पन्न समस्याओ को खोजा , जिन्होंने अपने कैश फ्लो का सही प्रबंधन नहीं किया था और दिवालिया हो गए थे।

कुछ सालों बाद भी मैं समस्याओं की तलाश कर रहा था, परंतु अब रकम बड़ी हो गई थी। तीस साल पहले मै ३० मिलियन डॉलर की माइनिंग कंपनी हासिल करने की कोशिश कर रहा था।हालांकि समस्या और रकम बढ़ गई थी, परंतु प्रक्रिया वही थी ।दीर्घकालीन वित्तीय सफलता का पैमाना यह है कि आपके कदमों की संख्या कितनी है ,आप किस दिशा में बढ़ रहे है और कितने वर्षों से बढ़ रहे है ।जितने वाले लोग जितनेवाले जानते है कि हारना भी जितने की प्रक्रिया का ही एक हिस्सा है ।हारने वाले लोग जीवन में वही काम करते रहते है ।

निष्क्रिय आमदनी 

निष्क्रिय आमदनी बनाने के लिए निवेश को समझे ।तुम्हें अंक जानना चाहिए । तथ्यों और राय के बीच अंतर को पहचाने ।

चूहा दौड़ मे फंसे रहने मे कोई समझदारी नहीं है 

ड्यू डिजिलेंस यानी उचित जांच पड़ताल जब धन की बात आती हैं तो अधिकांश लोग या तो आलसी होते है या फिर वे शॉर्टकट की तलाश करते है ।इसलिए वे कभी ड्यू डिजिलेंस नहीं कर पाते । लेकिन आपको  “विश्लेषण का लकवा” से नहीं ग्रसित होना है ।

 

नियम बदल गए हैं 

इसलिए आपको टैक्स लॉ , कॉरपोरेट लॉ , सिक्योरेटेज लॉ का नॉलेज होना चाहिए। ऐसी सिक्योरिटीज खोजिए , जो किसी और के लिए  दायित्व हों और फिर इन्हें समपत्तियो में बदल दे । जो निवेश आपको अमीर बनाते हैं , उनमें से अधिकतर बहुत कम समय के लिए ही उपलब्ध होते हैं । 

लगभग सभी भारी मुनाफे छोटे माइक्रो कैप शेयरों में होते है , जिनका मार्केट कैपिटलाइजेशन २५ मिलियन डॉलर से कम होता हैं ।यदि आपको धनी बनना है तो आपको संस्थागत तंत्र प्रबंधन को समझना होगा धन हासिल करने का सबसे बढ़िया तरीका यह है कि हम अपने खुद के सिस्टम बनाना सीखे।गैर पेशेवर व्यक्ति सी कॉर्पोरेशन में काम करने वाले व्यक्ति से  वित्तीय दृष्टि से २०% आगे रहेगा ।ई क्वांड्रेंट के लोग चाहे जितनी मेहनत कर ले , बी क्वांड्रेंट से आगे नहीं निकल पायेगा । क्योंकि वो तो अपने संस्थागत तंत्र का चुनाव ही नहीं कर सकते है ।

अमीर लोगो को  बिजनेस बढ़ने पर ज्यादा मेहनत करने की जरूरत नहीं होती ।उन्हे तो सिर्फ अपने प्रेसिडेंट को कहना होता है कि वह सिस्टम को बढ़ा ले और काम करने के लिए अधिक लोगो को नौकरी पर रख ले।कई कॉर्पोरेशन बिजनेस स्कूल के किसी प्रतीभाशाली विधार्थी को चुन लेते हैं और फिर उस आदमी को  इस तरह विकसित करते है ताकि एक दिन वह कम्पनी की जिम्मेदारी संभाल सके ।और ये प्रतिभाशाली युवा कर्मचारी किसी एक डिपार्टमेंट में विषेषज्ञ नहीं होते।वे बिजनेस सिस्टम के सभी पहलुओं की जानकारी लेने के लिए इस डिपार्टमेंट से उस डिपार्टमेंट तक काम करना सीखते है ।ई क्वांटड्रेंट का आयकर तो सरकार पहले ही टीडीएस मे काट लेती हैं ।

 

अपनी सोच को विकसित करने के लिए यह पुस्तक पढ़े: 

 

यदि आपको एक परिष्कृत निवेशक बनना है तो आपको वित्तीय अंको और सिस्टमो को समझना बहुत जरूरी हैं । वित्तीय अंधेपन से जोखिम बढ़ जाता हैं ।वित्तीय योजनाकारों , स्टॉक ब्रोकर्स और रियल एस्टेट ब्रोकर्स की सलाह से अपने फाइनेंशियल जवाब खोजे ।उच्च स्तरीय निवेशक बाजार के उपर या नीचे जाने के बारे में चिंतित नहीं होता।

आप किस तरह के निवेशक है

आपको आधारभूत और तकनीकी दोनो तरह के निवेशक बनना होगा ,तब आप शेयर से अच्छा प्रॉफिट बना पाएंगे ।तकनीकी निवेशक चार्ट देखकर निवेश करते है ।लोग अपने व्यक्तिगत फाइनेंशियल स्टेटमेंट देखने मे समय नहीं लगाते , उन्हे डर है कि क्या पता उन्हें वित्तीय कैंसर हो ।

आप जिन्दगी से क्या चाहते है ? 

सुरक्षा या अच्छी वित्तीय योजना याआरामदेह जीवन , सैर सपाटा ।

अमीर बनने के लिए पहले वित्तीय योजना पर काम करना होगा ।फिर अमीर बनने की योजना पर।

क्या तनख्वाह के भरोसे रहना आपके लिए जोखिम भरा काम है? 

जिस पल तुम समय को कीमती मानने लगते हो , उसी पल तुम ज्यादा अमीर बनने लगोगे ।आपकी कीमत आपके समय से नापी जाती हैं । क्योंकि समय पैसे से ज्यादा महत्वपूर्ण होता हैं ।

अपने जीवन की संभावनाओं को अनदेखा न करें । और यह पुस्तक पढ़े: 

धन के खेल को समझे

आर्थिक अज्ञान की वजह से अधिकतर लोग अपना जीवन मानसिक पिंजरे में बंद रहकर ही गुजार देते हैं ।अच्छी तरह शिक्षीत , कड़ी मेहनत करने वाले औसत दंपती बच्चे को नरसर स्कूल में छोड़ने के बाद अपनी कमर कसते हैं और नौकरी करने चले जाते है ।आप संतुष्ठि मे विलंब करने की योग्यता को विकसित कर अमीर बन सकते है किसी ज्यादा बड़े दीर्घकालीन पुरस्कार की खातिर अल्पकालीन, तात्कालिक आत्म संतुष्टि से इंकार करना सीखना ।यह खुद के बिजनेस का ध्यान रखने का समय है मुद्रास्फीति और टैक्स के बाद वर्तमान आर्थिक माहौल में बचत से ज्यादा  कुछ नहीं होता ।देखे की कहीं आपकी बुद्धि घास चरने तो नहीं चली गई ?

 

कंपनी  द्वारा जारी आईपीओ में हिस्सेदारी खरीदना ।इससे तेजी से शेयर से दौलत  बनाई जा सकती हैं । कंपनी की भावी आमदनी की क्षमता और वित्तीय विवरण , निवेश के लिए महत्वपूर्ण पैमाना हैं ।भावनात्मक विचारों के डर को वित्तीय शिक्षा से दूर करे ।धन के क्षेत्र मे लोगों के मन मे बहुत से गहरे भावनात्मक डर होते है ।भावनात्मक विचारों के साथ मूल समस्या यह है कि वे तार्किक लगते है ।जब भावनाएं उग्र होती हैं तो वे तार्किक मस्तिष्क की तुलना मे २४ गुना ज्यादा शक्तिशाली होती हैं ।

शेयर बाजार मे निवेश के रहस्य या अलादीन के चिराग , टीप्स या शॉर्टकट काम नहीं करता है ।

आपकी आमदनी 

अमीर लोग निष्क्रिय आमदनी और पोर्टफोलियो आमदनी पर ध्यान केंद्रित करते है ।

फाइनेंशियल स्टेटमेंट पढ़ना सीखिए 

इससे आपको अपने वित्तीय जीवन पर अधिक नियंत्रण हासिल होगा।एक दो साल तक जायदाद का प्रबंधन करना सीखने से आप व्यवसाय के प्रबंधन की उत्कृष्ठ योग्यता सीख जाते है ।दायित्व नहीं , संपत्तियां खरीदे ।अमीरों का कैशफ्लो :किराए की आमदनी , डिविडेंड , ब्याज, रॉयल्टी आदि ।

व्यय 

कर , हाउस लोन , इनकम टैक्स, कार की किस्त , क्रेडिट कार्ड का भुगतान , एजुकेशन लोन , भोजन, कपड़े,, मनोरंजन । ये सारे दायित्व है ।अपने आयकर वकील और टैक्स अकाउंटेंट से बातचीत करते रहें ।

यह भी पढ़ें :

निवेश के रहस्य 

दौलत के नियम

शेयर बाजार और आपका निवेश 

सक्सेस मंत्रा 

सफलता के लिए प्रेरणा

पता करे की सर्वश्रेष्ठ संस्थागत तंत्र बनाने के लिए बी क्वांड्रेड में बने रहने के लिए योजना को कैसे लागू करें ? 

रॉबर्ट कियोसकी कहते है कि अगर तुम एक अमीर निजी नागरिक बनन चाहते हो,तो तुम्हें कागज पर ज्यादा से ज्यादा गरीब और कंगाल दिखना चाहिए।

दूसरी ओर गरीब और मध्यमवर्गीय लोग हर चीज अपने खुद के नाम चाहते है ।अमीर लोग किसी चीज के स्वामी नहीं बनन चाहते, लेकिन हर चीज को नियंत्रित करना चाहते है।और वे कॉर्पोरेशन और सीमित साझेदारियों से इसे नियंत्रित करते है ।किसी भी अच्छे निवेशक के लिए निर्गम रणनीति बहुत महत्वपूर्ण होती हैं । की कैसे उस इन्वेस्टमेंट से बाहर निकलेंगे ।”द मिलिनेयर नेक्स्ट डोर “ यह किताब थॉमस स्टेनली की लिखी है जिसमे बताया गया है कि औसत अमेरिकी मिलिनेयर सेल्फ एम्प्लईद है , मितव्ययता से रहता है और लंबे समय के लिए निवेश करता हैं।

द मिलेनियर नेक्स्ट डोर मे अमीर बनने के सीक्रेट्स बताएं है :

अगर आप डर की वजह से किसी वित्तीय क्वाड्रेंट मे कैद है तो आप डेनियल गोलमैन की इमोशनल इंटेलिजेंस पढ़ ले ।

जल्दी शुरुआत कर दे

जल्दी ही सीखे कि क्लॉजड एंड म्यूचुअल फंड कैसे खरीदे जाते है । बाजार से ज्यादा स्मार्ट बनने की कोशिश न करें ।बड़े सौदे का इंतजार करना छोड़ दें । छोटे सौदों से “खेल के मैदान” मे  उतरे ।

 

 

 

 

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *