मार्केट टिप्स

इंडेक्स फंड की लागत कम और फायदे ज्यादा

देश मे म्यूचुअल फंड में निवेश के तरीके तेजी से बदल रहे है । एक्टिव फंड्स ने निवेशकों की दिलचस्पी कम हो रही है।

सेक्टोरल इन्वेस्टिंग 

सभी सेक्टरों के शेयर एक साथ रिटर्न नहीं देते ।

थीम आधारित निवेश

कुछ साल में क्लाउड कम्प्यूटिंग व्हीकल और न्यू इकोनॉमी जैसे थेमीटिक इन्वेस्टमेंट जा चलन है ।

बैंक एफडी से ज्यादा ब्याज दे रही है पोस्ट ऑफिस की निवेश योजनाएं 

पोस्ट ऑफिस की निवेश योजनाओ में  नेशनल सेविंग सर्टिफिकेट , किसान विकास पत्र, पब्लिक प्रोविडेंट फंड, सीनियर सिटीजन सेविंग अकाउंट आदि स्कीम है

सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम 

इसका भुगतान हर तीन महीने में किया जाता है ।

 

पब्लिक प्रोविडेंट फंड अकाउंट , पीपीएफ 

इसमें ब्याज आय और स्कीम अवधि पूरी होने पर मिलने वाली रकम टैक्स फ्री होती हैं।

सुकन्या समृद्धि अकाउंट , एसएसए 

उम्र कम से कम १० वर्ष। इसने एक वित्त वर्ष में जम से कम २५ रुपए और अधिकतम १.५० लाख रुपए का निवेश कर सकते है।

सही डायरेक्शन में आपके २० % प्रयास भी ८०% नतीजे दे सकते है ।

१०० रुपए से हो सकती है १०००० की कमाई 

निवेश ने सफलता का एक ही मंत्र है : सही समय पर मुफीद एसेट मे पैसा लगाए ।

शेयर बाजार में धैर्य रखो
शेयर बाजार मे जोखिम है और अच्छे निवेशक खाली बैठने से नहीं डरते हैं

शेयर बाजार में गिरावट से घबराएं नहीं । अपने पोर्टफोलियो पर भरोसा रखें । मौजूदा घटनाओं का असर भाप सकते है तो यकीनन सबसे आगे रहेंगे ।।

शेयर बाजार मे जो आप समझ पाए व जिसका विश्लेषण कर पाए , उसी ने निवेश करे ।

वारेन बफेट कहते है कि :

शेयर बाजार से संबंधित पुस्तकें पढ़े । किसी भी व्यवसाय के अंतर्निहित मूल्य ,intrinsic value जा अनुमान लगाना और उसको उसके उचित अथवा थोड़े कम दाम पर क्रय करना निवेश के प्रमुख घटक है।

५०/३०/२० फॉर्मूला अपनाए 

५०% हिस्सा आपकी आवश्यकताओं को पुरा करने मे ।

३०% राशि उन चीजों पर खर्च करे जो आप पाना चाहते है ।

२०% पैसा अपने लक्ष्यों में निवेश करे ।

कम लागत वाले पैसिव फंड मे बढ़ रहा निवेश; 

१४% तक बढ़ा ए यू एम ,२०२० मे सिर्फ ९% था । 

देश में इंडेक्स फंड जैसे पैसिव फंड मे निवेश का चलन बढ़ा है ।

पैसिव फंड को मैनेजर नहीं संभालते इसलिए सस्ता

 

Add a Comment

Your email address will not be published.