छोटा बिजनेस शुरू करे

किसी भी कॉलेज में स्टूडेंट्स से सुनने को मिलता है , ” हमे नौकरी की तलाश है ।”

रोज शर्ट पैंट पहनकर कंप्यूटर के सामने बैठने वाली नौकरी ।

अपनी लगन परिश्रम से रुपए कमाए ।

फेल होना हमारे समाज परिवार में एक बहुत बड़ा कलंक हैं । किसी का बच्चा क्लास में फेल हो गया तो हाय पूरे मोहल्ले में खबर फैल जाती है।

जो सक्षम है ,वो अपने बच्चो को इतने एशो आराम मे रखते हैं कि उन्हें असली दुनिया का पता ही नहीं।

ट्रेन बस का सफर , गर्मी सर्दी, पैसे जा अभाव जब देखा ही नहीं तो जूझने की शक्ति कहां से आएगी?

सशक्त करना ही असली प्यार है , क्या यह चुनौती स्वीकार है ? 

दुनिया की बाजार ने फेल्योर है,वो एक सकारात्मक और मजबूत इच्छाशक्ति वाले के लिए मौका है ।

अपने बच्चो को या ता बहुत बड़े ऑफिसर या फिर बिजनेस करने का अवसर दीजिए।

Add a Comment

Your email address will not be published.